Politics

मुख्यमंत्री पद बचाने के लिए उद्धव ठाकरे को याद आए मोदी, मदद मांगने पर PM ने दिया ये जबाब

कोरोना वायरस से पूरा देश परेशान है। कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग के बीच महाराष्ट्र में सियासी पारा भी चढ़ता जा रहा है। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की कुर्सी खतरे में आ गई है। उद्धव ठाकरे बिना विधायक बने मुख्यमंत्री बने थे। 27 मई को उन्हें सीएम बने 6 महीने पूरे हो जाएंगे। उद्धव ठाकरे अपने पद पर बने रहने के लिए उन्हें 6 महीने विधानसभा और विधान परिषद का सदस्य बनना था। वह अब तक विधानसभा और विधान परिषद के सदस्य नहीं बन पाए हैं।

Big relief for Uddhav Thackeray! ECI to hold polls to fill 9 ...

आपको बता दें कोरोना वायरस की वजह से फिलहाल चुनाव टल गए हैं। राज्यपाल उद्धव ठाकरे को अपने कोटे की सीट से मनोनीत करने पर कोई जवाब नहीं दे रहे हैं। अपनी कुर्सी बचाने के लिए उद्धव ठाकरे के पास एक महीना बचा है। उद्धव ठाकरे के विधान परिषद का सदस्य मनोनीत होने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मदद मांगी है।

Maharashtra power tussle: Amit Shah likely to meet Uddhav ...

दरअसल,संविधान के मुताबिक पद पर बने रहने के लिए उन्हें 6 महीने में विधानसभा या विधान परिषद सदस्य होना अनिवार्य है। 9 और 28 अप्रैल को इस बारे में राज्यपाल को प्रस्ताव भेजे गए। उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री को फोन कर कर सहायता मांगी है। इस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें मुद्दे पर विचार कर भरोसा दिलाया है और कहा है कि वह परेशान ना हो।

loading...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top