Politics

“मज़दूरों से मेरी हाथ जोड़कर विनती है, राज्य छोड़कर मत जाइए, यहीं मिलेगा काम”

कोरोना वायरस के कारण पूरे देश में लॉकडाउन जारी है। ऐसे में देश में प्रवासी मजदूरों के लौटने का सिलसिला लगातार जारी है। इस बीच कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने इन मजदूरों से अपील की है कि वह कर्नाटक छोड़कर अपने-अपने गृह राज्य ना जाए। उन्होंने कहा कि वह पहले की तरह वहीं पर काम करें। लॉकडाउन में नियमों में मिली छूट की तरफ इशारा करते हुए उन्होंने कहा कि नॉन रेड जोन में जिस तरह निर्माण और उद्योग कार्य शुरू हो गए हैं। ऐसे में मजदूरों को लौटने की जरूरत नहीं है।

Yediyurappa allocates portfolios, Karna to have 3 deputy CMS ...

जानकारी के मुताबिक येदियुरप्पा ने कहा है की, “मैं हाथ जोड़कर मज़दूरों से विनती करता हूं कि आप अफ़वाहों पर ध्यान न दें। आप जहां काम करते थे, वहां आपको काम मुहैया कराना सरकार की ज़िम्मेदारी है।आप जल्दबाज़ी में घर लौटने का फ़ैसला न लें। आप यहीं रुकिए और पहले की तरह ही काम कीजिए।”

दरअसल बीते 1 हफ्ते में प्रवासी मजदूरों से की गई येदियुरप्पा की यह दूसरी अपील है बीते दिनों बिल्डरों के एक समूह से उनके मुलाकात कैरियर चिंता जताई थी कि किन्नर का सामना करना पड़ सकता है पिछले शुक्रवार को भी मुख्यमंत्री ने मजदूरों से वहीं रुकने का अनुरोध किया था और कहा था कि सरकार आर्थिक गतिविधियां शुरू करने वाली है और उन्हें मजदूरों को सहयोग करना चाहिए। मंगलवार को येदियुरप्पा ने कई बिल्डरों और अधिकारियों के साथ मजदूरों के पलायन और निर्माण कार्य को शुरू करने के मुद्दे पर बातचीत की बैठक के बाद उन्होंने कहा, “दूसरे राज्यों की तुलना में कर्नाटक में कोविड-19 के हालात नियंत्रण में हैं। इसलिए रेड ज़ोन को छोड़कर बाक़ी जगहों पर कारोबार, निर्माण कार्य और औद्योगिक गतिविधियां फिर से शुरू की जाएंगी। मज़दूरों के इस ग़ैर-ज़रूरी पलायन को रोकने की दरकार है।”

Karnataka CM BS Yeddyurappa : मंत्री पद के लिए संत ...

उन्होंने कहा कि निर्माण उद्योग के प्रतिनिधियों ने उन्हें बताया कि लॉकडाउन के नियमों में छूट दिए जाने के बाद उन्होंने प्रवासी मज़दूरों को काम देना शुरू कर दिया था। मुख्यमंत्री ने दावा किया कि बीते डेढ़ महीनों से काम नहीं होने के बावजूद बिल्डरों ने इन मज़दूरों को वेतन के साथ-साथ खाना भी दिया।

कर्नाटक: मुख्यमंत्री बीएस ...

जानकारों की माने तो मुख्यमंत्री की अपील उस वक्त में सामने आई जब सरकार ने ग्रीन ऑरेंज ऑन में निर्माण और जो कार्य को फिर शुरू करने की इजाजत दे दी और उद्योगपति लगातार मजदूरों की किल्लत पैदा होने के बाद उठा रहे हैं। सरकार ने हाल ही में कोरोना वायरस स्लोडाउन के चलते राज्य में फंसे मजदूरों के लिए 110 यात्रा की इजाजत दी थी। सरकार का दावा है कि मजदूरों की मुश्किलों के समाधान के लिए राज्य सरकार पूरी तरह तैयार है। मुख्यमंत्री ने कहा, “हम मज़दूरों के बड़े तबके को समझाने की कोशिश कर रहे हैं कि ताकि कोई भ्रम की स्थिति न बचे।”

loading...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top